रानीगंज चेम्बर ऑफ कॉमर्स की अंदरूनी राजनीति की भेंट चढ़ गयीं प्रतिष्ठाता सदस्य स्वर्गीय गोविंद राम खैतान की 7 वी पुण्यतिथि

बंगाल मिरर, दलजीत सिंह रानीगंज: रानीगंज के सभी संप्रदाय के लोगों ने कहां की स्वर्गीय श्री गोविंदराम खेतान का नाम पूरे भारतवर्ष स्तर पर समाज सेवा के क्षेत्र में प्रसिद्ध था उनकी पुण्यतिथि नहीं मनाई जाना दुर्भाग्य का विषय है रानीगंज :- शिल्पांचल के शीर्ष व्यवसायी संगठनों में गिने जाने वाले रानीगंज चेंबर ऑफ कॉमर्स के प्रतिष्ठाता सदस्य रहे स्वर्गीय गोविंदराम खेतान की पुण्यतिथि नहीं मनाए जाने को लेकर व्यवसायिक हलकों में कई तरह की अटकलें लगाई जा रही हैं।  स्वर्गीय गोविंदराम खेतान की 7 वीं पुण्यतिथि थी। लेकिन इस दिन चेंबर ऑफ कॉमर्स में उनकी याद में ना तो कोई स्मरण सभा आयोजित की गई और ना ही चेंबर भवन के सामने लगी उनकी प्रतिमा पर ही श्रद्धांजलि अर्पित की गई।रानीगंज चेम्बर ऑफ कॉमर्स इस दिन को चेम्बर की प्रतिष्ठा दिवस अथार्त स्थापना दिवस के रूप में मनाता आ रहा है।परंतु चेंबर के तरफ से औपचारिक रूप से कोई कार्यक्रम नहीं आयोजित होने को चर्चा का बाजार गर्म है। कुछ लोग इसे चेंबर की अंदरूनी राजनीति से जोड़कर देख रहे हैं तो कुछ लोग इसे चेंबर के  प्रतिष्ठाता सदस्य रहे स्वर्गीय गोविंदराम खेतान की उपेक्षा बता रहे हैं। 

riju advt

ध्यान रहे कि स्वर्गीय गोविंदराम खेतान का निधन 3 जुलाई वर्ष 2013 को हुआ था। चेंबर के भवन के सामने उनकी मूर्ति भी स्थापित की गई है। वर्ष 2014 से लगातार 3 जुलाई को उनकी पुण्यतिथि मनाई जा रही है। चेंबर के प्रतिष्ठाता सदस्य रहे स्वर्गीय गौरीशंकर नंदी और जोहरलाल साव को भी इस दिन  श्रद्धांजलि दिए जाने की परंपरा चली आ रही है। परंतु इस बार चेंबर के तरफ से उनकी पुण्यतिथि पर स्मरण सभा का आयोजन नहीं होना कई लोगों को नागवार गुजर रहा है। कुछ लोग तो इसकी निंदा भी कर रहे हैं। उनकी पुण्यतिथि क्यों नहीं मनाई गई, इसे लेकर भले ही कोई स्पष्ट कारण नहीं बताया जा रहा है। 

  रानीगंज के सभी संप्रदाय के लोगों का कहना है कि रानीगंज के प्राण पुरुष माने जाने वाले एवं चेंबर के संस्थापक स्वर्गीय गोविंद राम जी खेतान की पुण्यतिथि चेंबर ऑफ कॉमर्स के तत्काल कमेटी द्वारा नहीं मनाए जाने को लेकर कड़ी निंदा व्यक्त की है रानीगंज चेंबर ऑफ कॉमर्स के वरिष्ठ सदस्य अशोक सराफ, कन्हैया सिंह ,राजकुमार क्याल , सरदार गुरुचरण सिंह, सरदार रविंद्र सिंह,, मोहम्मद परवेज आलम, विजय खेतान सहित कई गणमान्य लोगों ने चेंबर ऑफ कॉमर्स के संस्थापक एवं प्राण पुरुष स्वर्गीय गोविंद राम खेतान की पुण्यतिथि नहीं मनाया जाने को लेकर कड़ी निंदा की है    ।     अटकलें लग रही है कि हाल के दिनों में जिस प्रकार से चेंबर के भीतर राजनीतिक उठापटक चल रही है,  उनकी पुण्यतिथि उसी की भेंट चढ़ गई है।

…………………….
चेंबर ऑफ कॉमर्स के वर्तमान अध्यक्ष संदीप भालोटीया से इस विषय में संपर्क किया गया तो संपर्क नहीं हो सका वही  चेंबर के वर्तमान कमेटी के  अन्य कई सदस्यों ने बताया कि रानीगंज चेंबर के प्राण पुरुष एवं संस्थापक स्वर्गीय गोविंद राम खेतान जी का पुण्यतिथि समारोह अवश्य मनाना चाहिए था  l वरिष्ठ सदस्यों द्वारा उन्हें पुण्यतिथि मनाए जाने हेतु स्मरण कराने का प्रश्न है   l आज चेंबर की कार्यकारिणी में चेंबर के सदस्यों में सबसे वरिष्ठ अनुभवी एवं शिक्षित व्यक्ति श्री सुरेंद्र झुनझुनवाला स्वयं कार्यकारिणी में शामिल है कयास यह भी लगाए जा रहे हैं की पिछले 15: -20 वर्षों की परंपरा रही है की चेंबर के वरिष्ठ अनुभवी एवं सभापति के पद पर रहे व्यक्तियों को परामर्शदाता के रूप में नामित किया जाता है परंतु इस बार निर्वाचन के लगभग 3:30 महीनों बाद भी सलाहकारों का नामित नहीं किया जाना किस ओर संकेत कर रहे हैं दबी जबान से ही सही कुछ वरिष्ठ एवं अनुभवी सदस्य इस बात की शिकायत भी कर रहे हैं कि उनसे किसी भी विषय पर कोई परामर्श नहीं किया जाता है और इस विषय पर उन वरिष्ठ सदस्यों में क्षोभ भी है