ASANSOL

DPS आसनसोल में वर्धिनी व अश्मित बने हैड गर्ल एवं हैड बॉय

बंगाल मिरर, आसनसोल :   डी.पी.एस. आसनसोल में वर्धिनी व अश्मित बने हैड गर्ल एवं हैड बॉय
नेतृत्व दृष्टि को वास्तविकता में बदलने की क्षमता है –
दिल्ली पब्लिक स्कूल आसनसोल का शैक्षणिक सत्र 2024 – 2025 का अलंकरण समारोह विद्यालय परिसर में एक विशेष समारोह में बहुत धूमधाम और गरिमा के साथ 8 जून , दिन शनिवार को आयोजित किया गया।
सांस्कृतिक कार्यक्रम में मधुर संगीत के साथ शपथ ग्रहण समारोह आरम्भ हुआ  l


   कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में सुश्री इप्शिता दत्ता (सहायक पुलिस आयुक्त -हीरापुर ,पश्चिम बंगाल ) उपस्थित थीं l उन्होंने छात्र – नेताओं को बैज व सैश प्रदान कर सम्मानित किया l छात्र परिषद् ने अपनी जिम्मेदारियों को पूर्ण निष्ठा के साथ निभाने की शपथ ली  l
कार्यक्रम की अध्यक्षता स्कूल की प्रधानाचार्या सुश्री विनीता श्रीवास्तव  ने की l
हैड बॉय और हैड गर्ल के रूप में क्रमशः अश्मित केशरी एवं वर्धिनी शर्मा को चुना गया l इसके अतिरिक्त स्कूल स्तर पर स्पोर्ट्स हैड बॉय , स्पोर्ट्स हैड गर्ल , कल्चरल हेड , लिटररी हेड आदि अनेक पदों के लिए छात्रों का मानाभिषेक किया गया l


विद्यालय के चारों सदनों गंगा , रावी , झेलम व यमुना से हाउस कैप्टन , वाईस कैप्टन , स्पोर्ट्स , लिटररी एवं कल्चरल कैप्टन भी चुने गए l सभी को मुख्य अतिथि , सदन प्रमुख तथा अध्यापकों द्वारा सैश व बैज देकर सम्मानित किया गया l
मुख्य अतिथि ने चुने गए छात्रों को शुभकामनाएँ दी और कहा – अलंकरण समारोह स्कूल द्वारा नव – नियुक्त छात्र – पदाधिकारियों पर भरोसा और विश्वास को दर्शाता है। इससे वे दायित्व निभाते हुए अपनी क्षमताओं के अनुसार अपने कर्तव्यों का पालन करने की सीख लेते हैं और भविष्य में नेतृत्व क्षमता का सदुपयोग करते हैं l अपने वक्तव्य में उन्होंने अपने स्कूली जीवन के अनुभव को भी साझा किया l


प्रधानाचार्या ने भी छात्रों को अपनी जिम्मेदारियों को लगन व सच्चाई से पूर्ण करने तथा निष्पक्ष व ईमानदार रहने के लिए प्रेरित किया l उन्होंने कहा कि अधिकार व पद के साथ बहुत सी ज़िम्मेदारियाँ आपको दी जा रही हैं और हमें पूर्ण विशवास है कि उनका निर्वहन आप सच्ची श्रद्धा से करेंगे  l
इस अवसर पर चुने गए छात्रों के अभिभावकों ने भी शिरकत की l अभिभावकों के लिए अपने बच्चों को पद ग्रहण करते देखने का तथा इस अवसर का साक्षी बनने का अविस्मरणीय अवसर था , इसकी स्पष्ट झलक आमंत्रित अभिभावकों के मुख मंडल पर स्पष्ट परिलक्षित हो रही थी l 
धन्यवाद ज्ञापन और राष्ट्र – गान  के साथ कार्यक्रम का समापन हुआ l

Leave a Reply