सिन्घारन नदी को प्रदूषण से बचाने के लिए बैठक

संतोष मंडल,बंगाल मिरर, आसनसोल:  आज आसनसोल महकमाशासक देवजीत गांगुली की अध्यक्षता में उनके कार्यालय में एक बैठक जामुड़िया अधोगिक क्षेत्र से होकर गुजरने वाली सिंघारण नदी के पानी के प्रदूषित होने से बचाने के लिए की गई। चूंकि गत 12 दिसंबर को पश्चिम बंगाल की विधान सभा मे स्थानीय विधायक ने नदी के पानी को प्रदूषित होने का मामला उठाया था। आज की बैठक में महकमा शासक देवजीत गांगुली के अलावा संजय कुमार सिंह एग्जीक्यूटिव इंजीनियर सिंचाई विभाग, सीनियर सहायक इंजीनियर स्वरूप कुमार मंडल आसनसोल एवम अंजन फौजदार दुर्गापुर, पश्चिम बंगाल प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड, अतनु कुमार झूरी बी डी ओ जामुड़िया के अलावा जयप्रकाश डोकानिया, अध्यक्ष एवम अजय कुमार खैतान सचिव जामुड़िया चैम्बर ऑफ कॉमर्स एन्ड इंडस्ट्रीज तथा सुमित चक्रबर्ती एवम आलोक मिश्र श्याम सेल एन्ड पावर लिमिटेड, निरंजन गौरिसरिया गगन फेरोटेक लिमिटेड से उपस्थित थे। बैठक में निर्णय लिया गया कि बी डी ओ जामुड़िया कारखाना के आधिकारिक तथा जामुड़िया चैम्बर के प्रतिनिधि  सिंघारण नदी का मुआयना करेंगे और नदी के दोनों तरफ अगर कोई भी फ्लाई ऐश का जमावड़ा किसी भी कारखाने के द्वारा किया गया हो तो अविलंब जामुड़िया चैम्बर की देखरेख में उसको हटवाना होगा अन्यथा उस कारखाने पर करवाई होगी। साथ ही साथ कारखाने से निकलने वाले फ्लाई ऐश को फेकने के लिए जामुड़िया बी डी ओ को जगह का चयन करके कारखाने वाले को बताना होगा ताकि निश्चित जगह पर ही फ्लाई ऐश का निष्पादन संभव हो सके। इसके अलावा एक कमिटी भी महकमा शासक देवजीत गांगुली के द्वारा गठित की गई जो जामुड़िया अधोगिक क्षेत्र में किसी भी तरह की प्रदूषण की मोनोटरिंग करेगी और आवश्यकता पड़ने पर प्रशाशन को अपनी रिपोर्ट सौपेंगी ताकि प्रदूषण को नियंत्रित किया या करवाया जा सके। इस कमिटी में बी डी ओ जामुड़िया, सीनियर सहायक इंजीनियर, प्रदूषण नियंत्रण परिषद, जामुड़िया थाना प्रभारी, सहायक इंजीनियर सिंचाई विभाग के अलावा एक प्रतिनिधि जामुड़िया चैम्बर ऑफ कॉमर्स एन्ड इंडस्ट्रीज रहेंगे।

riju advt