पांडेश्वर में बांग्ला अकादमी का गठन

बंगाल मिरर, राहुल तिवारी, पांडेश्वर ः  पांडेश्वर विधानसभा क्षेत्र में सांस्कृतिक एवं साहित्यिक गतिविधियों को बढ़ावा देने के लिए विधायक जितेन्द्र तिवारी के नेतृत्व में बांग्ला अकादमी गठन के लिए शनिवार को समाज के बुद्धिजीवियों को लेकर बैठक की गयी। हरिपुर में आय़ोजित इस बैठक में बड़ी संख्या में बुद्धिजीवी शामिल हुये। विधायक जितेन्द्र तिवारी ने कहा कि किसी भी अंचल का विकास सिर्फ सड़क, नाली बनाने से पूरा नहीं होगा, गरीबों की सेवा भी हमारी नैतिक जिम्मेदारी है। लेकिन इसके समुचित विकास के लिए संस्कृति को विकसित करने के साथ ही, सांस्कृतिक गतिविधियों के लिए संस्कृति से जुड़े लोगों को एक उपयुक्त वातावरण भी देना होगा। इस तरह का वातावरण हम उपलब्ध करा पाते हैं तभी कह पायेंगे कि हम इलाके का विकास कर रहे हैं। पांडेश्वर का इतिहास पहले आपराधिक था, पहले यहां के लोगों की मांग कानून व्यवस्था को सुधारना था। चार साल बाद आज लोगों के लिए विकास प्राथमिक मुद्दा बना है। हमलोग सब कार्य नहीं कर पाये हैं, लेकिन यहां का मुख्य मुद्दा अब कानून-व्यवस्था से हटकर विकास पर आ गया है। सभी के सक्रिय सहयोग से यह संभव हो पाया है। उन्होंने कहा कि युवाओं को विभिन्न गतिविधियों में शामिल कर विकास के मुद्दे को प्राथमिक कर पाये हैं। आज पांडेश्वर में किसी की दादागिरी नहीं है। बुनियादी विकास तो विभिन्न विभाग करेंगे। लेकिन सांस्कृतिक रूप से अंचल को आगे ले जाने के लिए इस अंचल के जो बुद्धिजीवी, गुणी लोग को शामिल करना जरूरी है। इसलिए सभी ने मिलकर निर्णय लिया था कि पांडेश्वर के गुणी व्यक्ति हैं, संस्कृति से जो लोग जुड़े हैं, जिनका अनुभव है, उन पर जिम्मेदारी देकर हमलोग उनका पीछे से समर्थन करेंगे। सभी से यहां आने का अनुरोध किया था, जिसमें लगभग सभी आये हैं। पांडेश्वर बांग्ला अकादमी पूरी तरह से स्वतंत्र होकर कार्य करे, विधायक के रूप में मेरा पूर्ण समर्थन रहेगा, लेकिन इसकी सारी गतिविधियां आपलोगों को संचालित करनी होगी। वहीं पांडेश्वर बांग्ला अकादमी पूरी तरह से एक गैर राजनीतिक संस्था के रूप में कार्य करे।