बराकर में दूध विक्रेताओं की हड़ताल जारी

बंगाल मिरर, संजीव यादव, बराकर:  बराकर में दूसरे दिन भी दर बढ़ाने की मांग को लेकर सोमवार दुग्ध विक्रेताओं की हड़ताल रही । हड़ताल की समाप्ती को लेकर मिठाई दुकानदारों ने बराकर चैंबर ऑफ कॉमर्स के साथ बैठक की जहां कोई फैसला नहीं होने पर मामला जस का तस बना हुआ है । वहीं दुध नहीं मिलने पर शहर की नामी मिठाई दुकान स्विट प्लेस के मालिक ताला लगा दिया है ।

riju advt

    इस संबध में दुग्ध विक्रताओं ने बताया है कि कुछ चाय दुकानदारों को हमलोग दुध दे रहे है । कारण मांग के अनुसार पचास रुपये लीटर दुध खरीद रहे है । लेकर मिठाई दुकानदारों के साथ आभी कोई फैसला नहीं हुआ है । बर्धवान ,बांकुड़ा  से आने वाला चलानी खोआ छैना को भी रोक दिया गया है । बताया गया कि कुछ मिठाई दुकानदार झारखंड के धनबाद जिला अंतगर्त झरीया से नकली मिठाई लाकर बाजार में बेच रहे है । जिससे संक्रमण रोग लोगों में फैल सकता है । जिसकी जबाबदेही प्रशासन की होगी । बहार से आने वाले दुग्ध विक्रताओं को भी शहर नहीं घुसने देंगे । प्रत्येक मिठाई दुकान के पास दुग्ध विक्रता संघ के सदस्य खड़े जो पैनी नज़र लगाये रहते है । स्विट प्लेस के बंद हो जाने से शहर में चर्चाओं का बाजार गर्म है । कारण शादी विवाह एंव अन्य प्रयोजन मे अधिकतर मिठाई इस दुकान से  सपलाई होती है ।
दूध व्यवशाय के अध्यक्ष मनोहर यादव ने बताया कि मिठाई दुकान मालिक हट धर्मी कर रहे है जब हम लोग  खोवा 195 रुपये प्रति किलो उन्हें देते थे तब वह खोवा ग्राहकों 300 रुपये बिक्री करते थे पनीर 260 रुपये किलो देते थे मगर 6 माह से खोवा 380 से 400 रुपये किलो तथा पनीर 300 से 320 रुपया किलो बेच रहे है और हम लोगो को वही पुरानी रेट 195 रुपये मिलरहा है । जबकि जानवर से लेकर उसे खिलाने वाली बिचाली ,भूसी ,चोकर हर चीज की दाम प्रतिदिन बढ़ रहि है और हमारी दूध की सही कीमत वह देना नही चाहते है मजबूरन हम लोगो को आंदोलन करना पड़ा 
वही   समस्या के हल को लेकर बराकर चैंबर ऑफ कॉमर्स ने मंगलवार को दुग्ध विक्रेता संघ  एक बैठक बुलाई है । जहां दोनों पक्षों से वार्ता कर हल निकाला जायेगा ।