संकट में संपन्न लोगों का टेस्ट ले रहे भगवान ः जितेन्द्र तिवारी

बंगाल मिरर, दलजीत सिंह, जामुड़िया। जामुड़िया के नींघा में प्रत्यय संस्था की ओर से गरीबों के बीच अनाज वितरण किया गया। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि आसनसोल के मेयर सह तृणमूल कांग्रेस जिलाध्यक्ष जितेन्द्र तिवारी ने गरीबों को अनाज देकर कार्यक्रम की शुरूआत की। इस मौके पर मेयर जितेन्द्र तिवारी ने कहा लॉकडाउन के पहले दिन से राज्य की मुख्यमंत्री जिस तरह रास्ते पर उतरकर कार्य कर रही है, उससे हर कोई प्रभावित है। संकट की इस घड़ी में हर कोई अपनी क्षमता के अनुसार जरूरतमंदों की मदद कर रहा है। यही हमारे समाज की विशेषता है। यह हमारे देश में ही संभव है, अन्य देश धनी हो सकते हैं, लेकिन दुख-दर्द बांटने का जो जज्बा हमलोगों में है,

riju advt

वह दुनिया के अन्य देशों में नहीं मिलेगा। उन्होंने कहा कि कोरोना की महामारी में ईश्वर हम सभी की परीक्षा ले रहे हैं, मंदिर, मस्जिद में लोग ईश्वर या अल्लाह से प्रार्थना कर काफी कुछ मांगते हैं, भगवान ने हमें आज मौका दिया है, आज संपन्न लोगों की परीक्षा ले रहे हैं, वह संकट की घड़ी में गरीबों की मदद कर रहे हैं कि नहीं, अगर इस टेस्ट में पास होना है, तो जो कार्य यहां किया जा रहा है, यही कार्य जहां हम रहते हैं वहां के आसपास के तीन-चार परिवारों को कम से कम भोजन उपलब्ध कराइये, बिना प्रचार के लोगों की सेवा करने से जो सुख-शांति मिलेगी, वह बड़े-बड़े तीर्थस्थलों में मिलनेवाली शांति से बड़ी होगी। उन्होंने कहा कि प्रत्येक संपन्न व्यक्ति के घर में एक-दो लोगों का खाना बर्बाद होता होगा, वही अगर उसकी थोड़ी मात्रा बढ़ा देंगे तो आसपास के परिवार को चुपचाप खाना दे सकेंगे। उन्होंने कहा कि केन्द्र राज्य सरकार का 52 हजार करोड़ रुपये बकाया नहीं दे रही है, विपरीत परिस्थितियों में भी मुख्यमंत्री जनता के लिए कार्य कर रही है, तो उनके सैनिक के रूप में हमलोग कम से कम गरीबों को खाना खिला सकते हैं। फूल-गुलदस्ता पर पैसे की बर्बादी न करें, इसमें लगनेवाले पैसे से गरीबों की सेवा करें। आज से निर्णय लीजिए इलाके में हर कोई अपने आसपास के गरीब लोगों को खिलायेगा। एसी लोगों की सूची तैयार कर इस आज से ही लागू कीजिए। इस दौरान पार्षद राखी कर्मकार, उषा पासवान, कार्तिक धीवर आदि मौजूद थे।