ASANSOL

21 वर्ष बाद पिछड़े परिजनों से मिला बर्नपुर का सुरेश

राहुल तिवारी, बंगाल मिरर, आसनसोल  ःअपने परिवार से 21 वर्ष पहले दूर हुआ एक व्यक्ति अपने परिजनों को क्वारंटाइन सेंटर में मिला, पश्चिम बंगाल के आसनसोल के बर्नपुर स्थित नर्सिंग बांध इलाके के सुरेश प्रसाद 21 वर्षों की जुदाई के बाद अपने परिजनों से मिले, वह भी क्वारंटाइन सेंटर में । गुरुवार को जब आसनसोल दुर्गापुर पुलिस कमिश्नरेट के अंतगर्त कन्यापुर पुलिस फांड़ी प्रभारी दिव्यें मुखर्जी ने लॉक डाउन के दौरान दिल्ली से आसनसोल पहुंचे प्रवासी मजदूरों को कवारंटाइन सेंटर में भर्ती कराया, तो वहां उन मजदूरों में शामिल सुरेश प्रसाद को उसकी पत्नी उर्मिला प्रसाद ने पहचान लिया, सुरेश अपने परिवार से 21 वर्ष पहले बिछड़ गये थे।

तस्वीर राहुल तिवारी की

छायाकार ः राहुल तिवारी, आसनसोल

  21 वर्ष बाद सुरेश को वापस पाकर उनके परिजनों का खुशी का ठिकाना न रहा, उनकी आंखो से खुशी के आंसू छलकने लगे। सुरेश प्रसाद की पत्नी उर्मिला बताती है के वो 21 वर्ष पहले अपने पति से बिछड़ गई थी महिला के 4 बच्चे है जिनमे से 2 लड़की और दो लड़का है 2 लड़कियों की पहले ही शादी हो चुकी है बाकी के दो लड़के है जो पढ़ाई करते है और साथ मे पाट टाइम नॉकरी करते है सुरेश ने कहा के वो पिछले 21 वर्ष पहले अपने परिवार से बिछड़ गया था मैं आया हु पर उनको अपने परिवार से मिलने के वजाय उन्हें कवारेंटाइन सेंटर में डाल दिया गया था,  सुरेश की कहानी सुन पुलिस का भी दिल पसीज गया और पुलिस ने सुरेश की पत्नी उर्मिला देवी से संपर्क साधा और उर्मिला को अपनी गस्ती गाड़ी की मदद से आसनसोल के सारी अस्पताल में लाकर उसे पति सुरेश के साथ मिलाया।