आलमपुरा गुरुद्वारा को तोड़ने वालों पर थाने में लिखित शिकायत

बंगाल मिरर, हावड़ा। गुरुद्वारा नानक सत्संग आलामपुरा हावड़ा जिला अंतर्गत नेशनल हाइवे ओर स्थानीय पंचायत के ख़िलाप गुरुद्वारा की दीवाल तोड़ने का लगा आरोप गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी की तरफ़ से स्थानीय थाने के पंचायत प्रधान ओर नेशनल हाइवे के ख़िलाप लिखीत सिकायत की गई है

गुरुद्वारा कमेटी के सेक्रटरी जसविंदर सिंह ने आरोप लगाया कि गुरुद्वारा के अगल बगल ओर भी गलत तरीके से लोगो ने अतिक्रमण किया है लेकिन सिर्फ गुरुद्वारा ने कुछ जगह में दीवाल की थी उसी को तोड़ा गया हमलोगों को नोटिस दिया गया था हमने खुद निर्माण कार्य अपनी जगह में सुरु कर दिया था लेकिन हमें पंचायत ने समय नही दिया जिसके कारण बहुत नुकसान हुआ ,

इस ख़बर को पाकर सेंट्रल गुरुद्वारा प्रबंधक कामेटी केवाइस चेयरमैन सह बर्दवान गुरुद्वारा के प्रधान महिंदर सिंह सलूजा ने कहा कि सेंट्रल कमेटी को जैसे ही ख़बर मिली हमलोगों की टीम आलामपुरा गुरुद्वारा पहुची ओर पुलिस कमिश्नर सी सुधाकर से मिलकर पूरी जानकारी दी प्रशासनिक स्तर पर करवाई की मांग रखी है पुलिस कमिश्नर ने आश्वाशन दिया है की इस पर कानूनी जो करवाई होगी कि जायगी ,तख़्त श्री हरमंदिर जी पटना साहिब की मैनेजिंग कमेटी को इस घटना की पूरी जानकारी दी गई है ,दूसरी तरफ़ सेंट्रल गुरुद्वारा के कार्यकारी प्रधान सुरजीत सिंह मक्कड़ ने कहा हमलोगे परिस्थिति पर पूरी नज़र रखे हुवे है

सेंट्रल कमेटी ने पहल कर इस मामले को जल्द निबटाने के लिए महिन्द्रा सिंह सलूजा के साथ सदस्य वहां गए है सेंट्रल गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी के सचिव तरसेम सिंह ने कहा इस तरह से सिर्फ गुरु घर को तोड़ने से सिख समाज बहुत आहत हुवा है राज्य की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी से अनुरोध करंगे की दोषियी पर करवाई जरूर करे, कोलकात के त्रिणमूल नेता और समाजसेवी मनजित सिंह जीती ने कहा कि हमलोगे दोषियों पर सजा मिले मांग करते है इस तरह की बंगाल में आइंदा कोई घटना ने घटे इस मामले को लेकर कोलकाता सिंह सभा के अजित सिंह बारी ने भी विरोध जताया है और कहा कि गुरुद्वारा ने थोड़ी जगह घेर कर दीवाल कर ली थी थोड़ा और समय देते तो हटा ली जाती सिर्फ गुरु घर को ही क्यों टारगेट किया गया सवाल खड़े किया है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *