विधायक और पार्षद की चेतावनी का असर, बालू ट्रांसपोर्टिंग ठप, फंसे सैंकड़ो वाहन

बंगाल मिरर, एस सिंह, आसनसोल : पांच दिन पूर्व मंगलवार की रात दामोदर नदी से लाये गये बालू से लदे डंपर की चपेट में आने से दो युवकों की मौत हो गयी थी। दोनों मृतक युवक बर्नपुर शहर के रहने वाले तृणमूल कांग्रेस के सक्रिय कार्यकर्ता थे।इस घटना के बाद विपक्षी भाजपा ने आसनसोल में सत्तारूढ़ दल पर निशाना साधा।हालांकि, आसनसोल नगरनिगम के वार्ड नंबर 78 के तृणमूल कांग्रेस पार्षद अशोक रुद्र नेभी इस घटना के लिए आसनसोल दुर्गापुर पुलिस कमिश्नरेट की भूमिका पर सवाल उठाते हुए कहा आसनसोल में बर्नपुर रोड पर ओवरलोड बालू वाहनों को नहीं चलने देंगे। इसके लिए मुझे जहां तक जाना होगा, मैं जाऊंगा।

riju advt

 आसनसोल तृणमूल पार्षद अशोक रुद्र ने धमकी भरे लहजे में यह बात कही। उन्होंने कहा, मैं पिछले एक साल से इस परेशानी से जूझ रहा हूं। मैंने इसे लेकर हर जगह कहा है। पुलिस प्रशासन ने कार्रवाई की होती तो यह घटना नहीं होती। कुछ लोग अपने स्वार्थ के लिए इसमें शामिल होते हैं। मेरी मांग है कि इस बालू लदे वाहन के परिचालन की व्यवस्था अन्य वैकल्पिक सड़कों से की जाए।

वहीं आसनसोल दक्षिण विधानसभा के भाजपा विधायक अग्निमित्र पाल ने भी कहा कि बर्नपुर रोड के बजाय बालू वाहन को दूसरी सड़क पर चलना चाहिए। मैं इस सड़क को बालू ट्रक नहीं जाने दूंगीऔर बड़ा आंदोलन करूंगी। इस बीच इस घटना के बाद बर्नपुर के दामोदर नदी घाट पर रेत से लदी गाड़ियां खड़ी हैं। वाहन लोड नहीं होने के कारण चालक और खलासी वहीं फंस गए। शहर से दूर होने के कारण खाना नहीं मिलने से उन्हें परेशानी हो रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *