39 वें आसनसोल पुस्तक मेला का मेयर ने किया उद्घाटन, पोलो मैदान का नाम होगा पुस्तक मेला मैदान

बंगाल मिरर, आसनसोल। आसनसोल पोलो मैदान में युवा शिल्पी संसद द्वारा आयोजित 39 वें आसनसोल पुस्तक मेला का उद्घाटन शुक्रवार को आसनसोल के मेयर जितेन्द्र तिवारी ने किया। इस मौके पर मेयर जितेन्द्र तिवारी ने कहा कि इस पोलो मैदान का नाम आसनसोल पुस्तक मेला के नाम से किया जा रहा है। इसकी घेराबंदी शुरू कर दी गयी है। चारदीवारी बनने के बाद यहां गेट पर आसनसोल पुस्तक मेला मैदान लिखा जायेगा। आयोजकों से अनुरोध करता हूं कि स्थायी रूप से इसे पुस्तक मेला के लिए इस्तेमाल करें। विभिन्न संस्था विभिन्न सांस्कृतिक आयोजन यहीं पर करें।

riju advt

उन्होंने कहा कि पुस्तक मेला का आय़ोजन प्रत्येक वर्ष किया जा रहा है, लेकिन वर्तमान परिस्थिति बहुत खतरनाक है, देश में यही स्थिति जारी रही तो आनेवाले समय में जो लोग अपने विचारों को पुस्तकों में लिखते हैं, आनेवाले समय में यह लिख पायेंगे या नहीं इस पर संशय है। अगर अभी से इसका प्रतिवाद नहीं करते हैं, तो पुस्तक मेला का आयोजन होगा, लेकिन इसमें कौन सी पुस्तकें रहेंगी यह बाहरी ताकतें तय करेगी। विवेकशील लोगों को विचार प्रकट करने की आजादी नहीं रहेगी। उन्होंने कहा कि जो लोग इस गौरवशाली धरोहर को बचाये रखना चाहते हैं तो हम जो अन्य कार्य कर रहे हैं तो इसके सथ हमें अपना दायित्व भी निर्वाह करना होगा, इसे कोई और नहीं देखेगा, हम सभी को मिलकर प्रतिवाद करना होगा। पुस्तक मेला आयोजकों से अनुरोध है  कि आपलोगों ने जिस भावना के साथ पुस्तक मेला की शुरूआत की थी वह बरकरार रहे, आनेवाले समय भी उसी भावना के साथ आयोजन कर सकें, बुनियादी सुविधा हम लोग दे देंगे, लेकिन अभिव्यक्ति की आजादी रहेगी या नहीं इसे लेकर संशय दिख रहा है। इसमें हमारी भूमिका क्या होगी, इसे लेकर गंभीरता से सोचने की जरूरत है। आसनसोलवासियों से अनुरोध करूंगा कि पुस्तक मेला में आयें, पुस्तक खरीदें और पढ़े। देश, राज्य और शहर से प्यार करें। अपनी कला, संस्कृति से प्यार करें, इसके साथ ही यह भी देखें कि इसमें कोई हस्तक्षेप न कर सकें, अगर कोई हस्तक्षेप करता है, तो उसका विरोध करने के लिए तैयार रहें।