रानीगंज में रोके जाने पर मजदूरों ने किया प्रदर्शन

बंगाल मिरर, दलजीत सिंह रानीगंज: लॉक डाउन के दौरान भूखे प्यासे ईंट भट्टा के मज़दूर सैकड़ों की तादाद अपने परिवार के साथ बांकुड़ा और पुरुलिया जिले अपने अपने घर लौट रहे थे तभी पश्चिम बर्दवान और बांकुड़ा जिले की सीमा पर स्थित मेजिया ब्रीज पर रोक दिया गया।

riju advt

मेजिया थाने की पुलिस ने उनके ज़िले में प्रवेश की अनुमति न होने के कारण उन्हें रोक दिया। मज़दूरो की माने तो बांकुड़ा पुलिस ने उनपर लाठीचार्ज भी किया। इनका आरोप है की इस लाठीचार्ज मे कई महिलाएं भी घायल हुयीं है। उनका आरोप है की इनको खाना तो दुर पानी तक नही दिया गया।

  
शुक्रवार सुबह जब मज़दूरो ने फिर से बांकुड़ा मे प्रवेश करने की कोशिश की तो उन्हे फिर रोक दिया गया। इसके विरोध मे इन मज़दूरो ने राष्ट्रीय राजमार्ग 60 पर बैठ गए और मेजिया ब्रीज पर विरोध प्रदर्शन शुरू कर दी। रानीगंज थाना और बांकुड़ा जिले की पुलिस के दरम्यान बातचीत से भी समस्या का कोई समाधान नही निकला। अभी तक मौके पर बड़ी तादाद पुरुष, महिला और बच्चे मुसीबत में फंसे हुए हैं।