सीएबी के खिलाफ पीस इंडिया का हस्ताक्षर अभियान

बंगाल मिरर, आसनसोल ः सामाजिक संस्था पीस इंडिया चेयरमैन फिरोज खान एफके  के नेतृत्व में   सिटिज़नशिप अमेंडमेंट बिल (सीएबी ) के खिलाफ पूरे देश में हस्ताक्षऱ अभियान की शुरूआत की गयी है। उन्होंने कहा कि सीएबी 2019 लोक सभा और राज्यसभा मे पास हुआ वह भारत के संविधान के खिलाफ है. कोई भी बिल किसी भी धर्म के आधार पर नही बन सकता है।  नागरिकता किसी भी धर्म की बुनियाद मे नही दिया जा सकता है।  यब बिल आर्टिकल 14 का उल्लंघन है।  

riju advt

इससे देश की एकता और अखंडता को खतरा है। इसके साथ ही रिफ्यूजियों को नागरिकता देने से देश की सुरक्षा भी खतरे में पड़ सकती है। इस बिल के कारण उत्तर पूर्व के राज्यों पर दुष्प्रभाव पड़ रहा है। इसके खिलाफ पूरे देश में आन्दोलन हो रहा है, लोगों में आक्रोश है । उन्होंने राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री और गृह मंत्री  को पत्र लिख कर सीएबी 2019  को वापस लेने और उसको रिव्यू करने की मांग की है। वहीं रिफ्यूजी के लिए कोई बिल पास करने की ज़रूरत है तो बिल्कुल पास करे मगर उस मे कोई भी धर्म के आधार पर नही करे।  इसके लिए पूरे देश मे एक हस्ताक्षर अभियान शुरू किया है। जिस को पूरा देश मे कादि तादाद मे लोग साइन कर रहे है, इसका लिंक यह है. इस लिंक मे क्लिक कर के कोई भी हस्ताक्षर कर सकता है. http://chng.it/hVFRmVhq