Kolkata NewsWest Bengal

Mamata Banerjee : NDA सरकार ज्यादा दिन नहीं चलेगी, इंडिया आएगी सत्ता में

बंगाल मिरर,‌कोलकाता। पश्चिम बंगाल की मुख्यंमत्री ममता बनर्जी ने मोदी 3.0 सरकार के गठन के पहले बड़ा हमला बोला है। ममता बनर्जी ने शनिवार को नवनिर्वाचित सांसदों के साथ बैठक की और बैठक के बाद  सांसदों ने ने ममता बनर्जी को फिर से चेयरपर्सन चुन लिया। इसके साथ ही ममता बनर्जी ने दावा किया कि यह सरकार लंबे समय तक नहीं चलेगी. उन्होंने कहा कि अगले आने वाले दिनों में बीजेपी के कई नेता पार्टी छोड़ेंगे, क्योंकि वह मोदी से खुश नहीं हैं।

पार्टी की बैठक में कोलकाता उत्तर के सांसद सुदीप बंदोपाध्याय को फिर से लोकसभा का नेता चुन लिया गया। इसके साथ ही डॉ. काकोली घोष दस्तीदार को लोकसभा में उपनेता, कल्याण बनर्जी को मुख्य सचेतक, डेरेक ओ ब्रायन को राज्यसभा में नेता, सागरिका घोष को उपनेता और नदीमुल हक को मुख्य सचेतक बनाया गया है।


अंततः बनेगी इंडिया गठबंधन की सरकार


ममता बनर्जी ने कहा कि उनकी पार्टी “प्रतीक्षा करो और देखो” की नीति पर चलेगी और अगर “कमजोर और अस्थिर” भाजपा नीत एनडीए सरकार सत्ता से बाहर हो जाती है तो उन्हें खुशी होगी. उन्होंने कहा कि देश को बदलाव की जरूरत है; देश बदलाव चाहता है. यह जनादेश बदलाव के लिए था. हम इंतजार कर रहे हैं और स्थिति पर नजर रख रहे हैं. यह जनादेश नरेंद्र मोदी के खिलाफ था, इसलिए उन्हें इस बार प्रधानमंत्री नहीं बनना चाहिए. किसी और को पदभार संभालने दिया जाना चाहिए था. तृणमूल कांग्रेस सुप्रीमो ने कहा कि पार्टी नई सरकार के शपथ ग्रहण समारोह में शामिल नहीं होगी।

उन्होंने कहा कि भाजपा अलोकतांत्रिक और अवैध तरीके से सरकार बना रही है. आज भले ही भारत ब्लॉक ने सरकार बनाने का दावा नहीं किया हो, लेकिन इसका मतलब यह नहीं है कि कल वह दावा नहीं करेगा. चलिए कुछ समय इंतजार करते हैं. उन्होंने कहा कि मुझे यह देखकर खुशी होगी कि केंद्र की यह अस्थिर और कमजोर सरकार सत्ता से बाहर हो गई है।


लोकसभा में एनआरसी रद्द करने की करेंगे मांग
उन्होंने कहा कि एनडीए और इंडिया गठबंधन में अंतर है. जो लोग वहां हैं, उनकी मांगें अधिक हैं. लेकिन हम जो इंडिया गठबंधन में हैं, उन्हें कुछ नहीं चाहिए. हम लोगों का भला चाहते हैं, देश का भला चाहते हैं. ममता बनर्जी ने कहा कि ये अब डरा-धमका कर 147 लोगों को निलंबित कर तिहाई बहुमत दिखाकर कोई भी बिल पास नहीं करा पाएंगे. इस अवसर पर सीएम ममता बनर्जी ने इडिया गठबंधन के नेताओं को कोलकाता आने आह्वान किया. उन्होंने कहा कि हरियाणा में विरोध कर रहे किसानों को समर्थन देने के लिए टीएमसी चार सदस्यीय सदस्य हरियाणा भेजेगी।


21 जुलाई को जनता को धन्यवाद देंगी टीएमसी


उन्होंने कहा कि हम 21 जुलाई को जनता को धन्यवाद देंगे. लोकसभा और विधानसभा चुनाव में अंतर होता है. हालाकि 2019 के चुनाव में टीएमसी 161 सीटों पर आगे थी. भाजपा 121 सीटों पर आगे थी. इस बार हम 192 सीटों पर आगे हैं. बीजेपी सिर्फ 90 अंकों से आगे है. कई जगह झूठ बोल रहे हैं और गलत आंकड़े दे रहे हैं. उन्होंने कहा कि कई सीटों पर दो से तीन हजार वोट से हारे हैं. मेदिनीपुर पूर्व के नतीजे देखिए पूरी लूट हुई है. डीएम और आईसी बदल गये. केंद्रीय बलों ने सब कुछ किया है.

Leave a Reply