जब तक भाजपा साफ नहीं होगी, तब तक पूरे देश में ‘खेला होबे’ : ममता बनर्जी

बंगाल मिरर, राज्य ब्यूरो, कोलकाता : पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री और तृणमूल कांग्रेस (TMC) सुप्रीमो ममता बनर्जी ( Mamata Banerjee) ने कहा है कि जब तक भारतीय जनता पार्टी (BJP) की सरकार को सत्ता से उखाड़ नहीं फेंकेंगी, तब तक पूरे देश में खेला होगा. उन्होंने कहा कि जिस तरह से पश्चिम बंगाल में भाजपा को हराया, उसी तरह अब पूरे देश में ‘खेला होबे’ की गूंज होगी. भाजपा को बुरी तरह से हराकर लगातार तीसरी बार सत्ता पर काबिज होने वाली ममता ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह के साथ-साथ केंद्र सरकार को कई मोर्चे पर घेरा.

पेगासस से लेकर ऑक्सीजन की कमी तक के लिए उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को लताड़ लगायी. लोगों की निजता में ताक-झांक करने का आरोप भाजपा की केंद्र सरकार पर लगाया. ममता बनर्जी ने कहा कि बंगाल विधानसभा चुनाव 2021 में केंद्र सरकार ने तृणमूल कांग्रेस को पराजित करने के लिए अपनी पूरी ताकत लगा दी थी. मसल पावर से लेकर मनी पावर और केंद्रीय जांच एजेंसियों तक का इस्तेमाल किया गया. लेकिन, बंगाल की जनता ने तृणमूल कांग्रेस पर एक बार फिर भरोसा जताया और पिछली बार से ज्यादा सीटें हमें दीं. उन्होंने 16 अगस्त से ‘खेला होबे’ दिवस मनाने का एलान भी किया.


बंगाल के बाद अब देश में ‘खेला होबे


ममता बनर्जी ने कहा कि बंगाल के बाद अब देश में खेला होगा. तृणमूल सुप्रीमो अगले सप्ताह (26 जुलाई) राजधानी दिल्ली जा रहीं हैं. 26 से 30 जुलाई की अपनी यात्रा के दौरान ममता बनर्जी कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी समेत भाजपा विरोधी कई दलों के नेताओं से मुलाकात करेंगी. बताया जा रहा है कि इस दौरान वर्ष 2024 के लोकसभा चुनाव में भाजपा को रोकने की रणनीति पर चर्चा होगी.


2024 के लिए ममता बनायेंगी फ्रंट


वर्ष 2019 में लोकसभा चुनाव से पहले भाजपा विरोधी सभी दलों को एकजुट करने की कोशिश कर चुकीं ममता बनर्जी एक बार फिर वैसी ही तैयारी कर रही हैं. उन्होंने कहा है कि 2024 के लोकसभा चुनाव से पहले एक फ्रंट बनाकर अभी से भाजपा के खिलाफ चुनाव की तैयारी शुरू कर दी जायेगी. बंगाल की प्रचंड जीत के बाद आत्मविश्वास से लबरेज ममता केंद्र की राजनीति में अपना सिक्का जमाने की तैयारी कर रही हैं. तृणमूल कांग्रेस की कोशिश है कि ममता बनर्जी को वर्ष 2024 के लोकसभा चुनाव में पीएम नरेंद्र मोदी के खिलाफ विपक्ष का चेहरा बनाया जाये. तृणमूल के चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर, भाजपा के पूर्व दिग्गज नेता रहे यशवंत सिन्हा और हाल ही में बीजेपी छोड़कर टीएमसी में लौटे मुकुल रॉय को विपक्षी दलों के नेताओं को इसके लिए तैयार करने की जिम्मेवारी सौंपी गयी है.


पेगासस से लोगों को किया जा रहा परेशान


ममता बनर्जी ने कहा कि पेगासस मालवेयर के जरिये लोगों को परेशान किया जा रहा है. विपक्षी दलों के नेताओं के साथ-साथ अपनी ही सरकार के मंत्री, अधिकारी और यहां तक कि जजों की भी जासूसी की जा रही है. केंद्र सरकार लोगों के फोन टैप करवा रही है. लोग फोन नहीं कर पा रहे हैं. शहीदों को श्रद्धांजलि देने के लिए आयोजित इस कार्यक्रम में तृणमूल कांग्रेस के मुखपत्र ‘जागो बांग्ला’ के दैनिक संस्करण का लोकार्पण भी किया गया. इस अवसर पर तृणमूल कांग्रेस के पश्चिम बंगाल प्रदेश अध्यक्ष सुब्रत बक्शी, सांसद अभिषेक बनर्जी, चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर, मुकुल रॉय, पार्थ चटर्जी जैसे नेता मौजूद थे.


दिल्ली में इन लोगों ने सुना ममता का भाषण


तृणमूल की शहीद रैली में ममता बनर्जी के संबोधन को राष्ट्रीय राजधानी नयी दिल्ली में भी सुना गया. वर्चुअल रैली में राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के नेता शरद पवार, कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह एवं पी चिदम्बरम, समाजवादी पार्टी से जया बच्चन, रामगोपाल यादव, राष्ट्रीय जनता दल से मनोज झा के अलावा डीएमके, आम आदमी पार्टी और अकाली दल के प्रतिनिधि भी शामिल हुए.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *