आसनसोल में नगर कीर्तन, जो बोले सो निहाल…से गूंज उठा

बंगाल मिरर, आसनसोल : आसनसोल में गुरुनानक देव की जयंती पर तीन दिवसीय प्रकाश पर्व की शुरूआत नगर कीर्तन के साथ हुई। आसनसोल जो बोले सो निहाल…से गूंज उठा। गौरतलब है कि गुरु नानक देव की जयंती कार्तिक मास की पूर्णिमा को मनाई जाती है। इस  अवसर पर सिख समुदाय के लोग प्रत्येक दिन दीपावली के बाद से ही सुबह से प्रभात फेरी निकालते हैं 

riju advt

इसकी प्रमुख वजह है कि इसी दिन सिख धर्म के प्रथम गुरु गुरु नानक जी का जन्म हुआ था तभी से उनके जन्मदिन को नानक जयंती के रूप में मनाया जाता है।इस वर्ष गुरुनानक जयंती 8 नवंबर को है लेकिन नगर कीर्तन का आयोजन सिख समाज की ओर से 6 नवंबर को ही किया जा रहा है। आसनसोल में गुरु नानक हाई स्कूल से नगर कीर्तन शुरू होकर हटन रोड होते हुए जीटी रोड से होकर रामबंधु तालाब के समीप गुरुनानक नगर में संपन्न हुई। जगह जगह पर विभिन्न संगठनों के द्वारा कैंप का आयोजन किया गया। 

ACCI ने कैंप लगाकर की सेवा

आसनसोल चेंबर ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्रीज की ओर से भी सेवा शिविर लगाया गया था इस मौके पर चेंबर की ओर से अध्यक्ष गौरीशंकर अग्रवाल, डायरेक्टर सचिन राय, सचिव विनोद गुप्ता, संजय तिवारी उज्जवल राय, मनोज साहा, मनोज तोदी, सरवन अग्रवाल आदि मौजूद थे।

वार्ड नंबर 47 के बरसात राजेश तिवारी के नेतृत्व में रामधनी मोड़ के पास एक कैंप का आयोजन किया गया। कैंप में चाय पानी बिस्कुट एवं बच्चों के लिए चॉकलेट की व्यवस्था की गई थी। वार्ड के कार्यकर्ताओं ने भी जमकर सहयोग किया। राजेश तिवारी ने कहा कि यह शोभायात्रा हमारे वार्ड से होकर गुजर रही है इसलिए कार्यकर्ताओं के सहयोग से इस कैंप का आयोजन किया गया है। मानव सेवा ही मनुष्य का पहला धर्म होना चाहिए। पार्षद बनने के बाद सामाजिक कार्यों में हमेशा सहयोग किया है और आगे भी करते रहेंगे। पुष्प सज्जित ट्रक पर आस्था के केंद्र श्री गुरु नानक देव जी का प्रकाश किया गया था इनके सामने हाथों में कृपाण लिए पंज प्यारे पैदल चल रहे थे रास्तों को पानी से खींचा जा रहा था श्रद्धालुओं द्वारा मार्ग को झाड़ू से साफ किया जा रहा था। विभिन्न गुरुद्वारे के कीर्तनी जत्थे श्री गुरु नानक देव जी की पवित्र गुरुवाणी का ढोल मजीरा और हारमोनियम पर पूर्ण भक्ति भाव के साथ गायन कर रहे थे। बैगपाइपर बैंड के साथ ही पंजाब से आये गदका दल का आकर्षक करतब केन्द्र बिंदु रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *